मध्य प्रदेश : राशन कार्ड और मकान बन सके इस लिय 18 मुस्लिम धर्मांतरण कर हिंदू बन गए

Spread the love

मध्य प्रदेश में धर्मांतरण का एक ऐसा मामला सामने आया है। जिसने सबको हैरान कर दिया है। मामला रतलाम ज़िले के गांव का है जहां 18 मुस्लिमों ने हिदू धर्म अपना लिया था। इस धर्मांतरण की ख़बरे ने सबको चौंका दिया था। लेकिन अब इस घटना से जुड़ी एक सच्चाई सामने आई है।

दैनिक भास्कर की ख़बरे के मुतबिक जिन 18 मुस्लिमों ने धर्म परिवर्तन किया है। उसके पीछे का कारण बेहद ही हैरान करने वाला है। हिंदू धर्म अपनाने की पीछे का करण गरीबी और भूख है। हिंदू धर्म में वे सभी इस लिय शामिल हुए हैं कि उन सभी को रहने के लिय घर और राशन कार्ड मिलने में आसानी होगी।

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश में 15 दिन के अंदर मुस्लिम से हिंदू बनने का दूसरा बड़ा मामला है। मुस्लिम धर्म त्याग कर हिंदू धर्म अपनाने वाले परिवार के मुखिया मोहम्मद शाह अब राम सिंह बन गए हैं। भीमनाथ मंदिर में महा शिवपुराण की पूर्णाहुति पर गुरुवार को स्वामी आनंदगिरी महाराज के सान्निध्य में सभी ने गोबर और गोमूत्र से नहाकर जनेऊ धारण किया।

धर्मांतरण करने वाले ये लोग मुसलमान थे, लेकिन इनमें अधिकतर लोगों के मुस्लिम धर्म के त्योहार भी नहीं पता। इन्होंने ना कभी नमाज़ नहीं पढ़ी और ना ही कुरान। ये कभी मस्जिद भी नहीं गए। हां, हालात समझकर ये फैसला ज़रूर कर लिया कि सनातनी हो जाएंगे, तो कुछ पक्का इंतजाम हो जाएगा। इनमें से एक महिला ने कबूल किया कि हमें बोला गया कि हिन्दू धर्म में आ गए, तो घर, मकान सब मिलेगा।

मध्य प्रदेश के रतलाम हाईवे से 30 किलोमीटर अंदर है आम्बा पंचायत। यहां गांव के दूसरे छोर पर कुछ कच्चे-पक्के मकानों के बीच इन फकीरों का डेरा है। कुछ के पास वोटर ID भी हैं। ज्यादातर लोग गांव-गांव भीख मांगकर परिवार के खाने-पीने का इंतजाम करते हैं। सालों से ये लोग इसी गांव में डेरा डाले हैं। इनका साफ कहना है कि बिंदू धर्म में वे सब इस लिय आए हैं के उन सबका राशन कार्ड बन जाए और रहने के लिय मकान मिल सके।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment