भोपाल में तीन वर्षीय मासूम के साथ हैवानियत, बिलाबॉन्ग स्कूल पर गंभीर आरोप

Spread the love

Bhopal Billabong School Rape case: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित जाने-माने बिलाबॉन्ग स्कूल (Billabong High International School, Bhopal) में एक साढ़े तीन साल की बच्ची से दुष्कर्म का मामला सामने आया है. गुरूवार सुबह लोगों ने स्कूल परिसर के बाहर जगह विरोध प्रदर्शन किया. वहीं स्कूल प्रशासन की ओर से मेन गेट पर बेरीकेडिंग लगा दी गई.

अभिभावकों ने स्कूल प्रबंधन और उसके मालिक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और उन पर पूरे मामले को दबाने और लीपापोती करने का आरोप लगाया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अभिभावक आनंद शर्मा ने इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने के लिए सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि स्कूल प्रबंधन इतने संगीन मामले में गैरजिम्मेदाराना रवैया अपना रहा है.

उन्होंने कहा कि ड्राइवर को बिना जांच के ही क्लीन चिट दे दी गई है. वहीं सीसीटीवी फुटेज एक से डेढ़ महीने स्टोर करने के बजाए चार दिन में ही डिलीट कर दिया गया. वहीं एक अन्य अभिभावक ने अपना गुस्सू जाहिर करते हुए कहा कि हम फीस के नाम में एक मोटी रकम भरते हैं लेकिन हमारे बच्चों की सुरक्षा के प्रशासन बेहद लापरवाह है. हम ऐसे स्कूलों पर भरोसा कर के अपने बच्चों को स्कूल भेजते हैं लेकिन एक तीन वर्षीय मासूम के साथ हुई दरिंदगी से हम सब सहम उठे हैं.

प्रदर्शन कर रहे अभिभावकों ने स्कूल प्रबंधन से मांग की है स्कूल प्रशासन अपनी बसों के सीसीटीवी की लाइव लिंक उपलब्ध कराए और फुटेज को एक महीने तक के लिए स्टोर करें ताकि कुछ अनहोनी पर कम से कम हम ये देख सकें. वहीं एक अन्य शख्स मांग करते हुए कहा कि स्कूल प्रबंधन और मालिक के खिलाफ भी एफआईआर होनी चाहिए. ये लोग भी उतने ही जिम्मेदार हैं जितना की आरोपी शख्स क्योंकि इन लोगों की लापरवाही से इतर की घटना होती है.

वहीं दूसरी इस मामले में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जांच के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री शिवराज के निर्देश के बाद इस मामले की जांच एसआईटी करेगी. वहीं जांच के लिए स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से भी एक कमेटी बनाई गई है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बैठक के बाद स्कूल शिक्षा और जिला प्रशासन के अधिकारी घटना स्थल पर मामले की जांच करने पहुंचे. मुख्यमंत्री शिवराज ने जांच अधिकारियों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी मांगी है.

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment