भोपाल का वो दहशत भरा मंजर, जब गणपति विसर्जन के दौरान नाव पलटने से हो गई थी 13 लोगों की मौत!

Spread the love

13 सितंबर 2019, यह वो तारीख़ है जब भोपाल शहर में गणेश विसर्जन के दौरान खटला पुरा घाट पर दो नाव पलटने से 13 लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना ने पूरे शहर को हिला कर रख लिया था। घटना के बाद चले रेस्क्यू में 6 लोगों को बचा लिया गया था। पुलिस का कहना था कि नाव में अधिक लोग सवार थे जिसके कारण बैलेंस बिगड़ने के हदसा हो गया।

गणेश विसर्जन के दौरान नाव पलटने के इस हादसे के बाद कोहराम मच गया था। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान परिजनों से मिलने पहुंचे थे। सरकार की ओर से मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए मुआवजा देना का ऐलान हुआ था। हादसे में जान गंवाने वाले सभी लोग पिपलानी क्षेत्र के रहने वाले थे। इस मामले में मजिस्ट्रियल जांच की गई थी और जहांगीराबाद थाने में दो नाविकों के खिलाफ मामला भी दर्ज किया गया था।

इस घटना में गंभीर लापरवाही की बात सामने आई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब ये हादसा हुआ वहां सुरक्षा के लिहाज़ से कोई बंदोबस्त नहीं किए गए थे। यहां पुलिस की ओर से भी सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं था। नाव पर 19 लोगों को चढ़ने से रोकने वाला कोई नहीं था। जबकि इससे पहले भी यहां लोगों के डूबने की अनके घटनाएं हो चुकी थी।

देश में गणपति विसर्जन के समय देश के अलग-अलग हिस्सों से इस तरह की घटनाएं सामने आती रही हैं। इंसान लापरवाही में अपनी जान की भी परवाह नहीं करता। उसकी ज़रा सी न समझी के कारण पूरे परिवार को दर्द झेलने के लिय मजबूर होना पड़ता है। लोग आज भी इन हादसों से सीख नहीं लेते। लापरवाही के चलते अपनी साथ-साथ दूसरे की भी जान के दुश्मन बन जाते हैं।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Also Read

बाढ़ कब और क्यों आती है ?

‘सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने दोस्त की थीसेस चुरा कर अपने नाम से लिखी किताब’

Book Review: ‘रेत समाधि’ लेखन की हर सरहद को तोड़ता चलता है

Leave a Comment