Madhya Pradesh: स्किल ग्रेजुएट्स की तुलना में पांचवी पास के पास ज्यादा काम

Spread the love

Jobs and Unemployment in Madhya Pradesh: देश भर में बेरोजगारी अपने चरम पर है. क्या अनपढ़ क्या पढ़ें लिखें और क्या स्किल्ड बैचलर्स हर दूसरा शख्स मजबूरी में या तो कोई चाय ठेला या फिर कोई भजिए तलता नजर आ जाएगा. वहीं बेरोजगारी पर सीएमआईई (CMIE Report) के एक सर्वेक्षण में चौकाने वाली बात सामने आई है. इस रिपोर्ट के मुताबिक, मध्य प्रदेश (Jobs and Unemployment in Madhya Pradesh) में 5वीं पास लोग सबसे कम बेरोजगार है जबकी पढ़े लिखे ग्रेजुएट्स ज्यादा बेरोजगार है. यानी स्किल्ड ग्रेजुएट्स की तुलना में पांचवी पास के पास ज्यादा काम है.

प्रमुख हिंदी अखबार दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 5वीं पास लोगों में बेरोजगारी दर सबसे कम महज 0.44% है. सीएमआईई (सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी) की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में ग्रेजुएट्स में बेरोजगारी दर 11.53% और मई से अगस्त 2022 माह के बीच ग्रॉस बेरोजगारी दर 3.52% बताई गई है. इस अनुसार कम बेरोजगारी के मामले में प्रदेश दूसरे नंबर पर है.

Bhopal: नेहरू नगर में गणेश पंडाल के पास करंट लगने से बच्चे की मौत, बिजली कंपनी पर गंभीर आरोप

वहीं सबसे कम बेरोजगारी दर 0.82% के साथ छत्तीसगढ़ पहले स्थान पर है. रिसर्च के मुताबिक मई 2022 से अगस्त 2022 तक मध्य प्रदेश में बेरोजगारी दर 3.52% रिकॉर्ड की गई. इसमें पुरुषों में 3.48% और महिलाओं में 4.91% बेरोजगारी दर है. वहीं इन आंकडों के मुताबिक, अगस्त में बेरोजगारी दर 8.28%, साल के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है.

मध्य प्रदेश में 20-24 साल तक के युवा वर्ग की महिलाओं में बेरोजगारी दर 58.08%, पुरुषों में 26.50% तो 25-29 साल की युवा श्रेणी में 10.35% बेरोजगारी दर सामने आई हैं. इनमें पुरुषों में 10.32% जबकी महिलाओं में 11.94% बेरोजगारी दर जबकी 15-20 साल की उम्र के 11.76 प्रतिशत लोग बेरोजगार हैं.

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment