महाराष्ट्र सियासी संकट : जानें किस तरह पार्टी के पास कितनी विधानसभा सीटें ?

Spread the love

महाराष्ट्र की सियासत में काफी उथल-पुथल का दौर चल रहा है। उद्धव सरकार के मंत्री एकनाथ शिंदे ने पूरी बाज़ी ही पलटकर रख दी। शिवसेना के 40 से अधिक विधायकों को तोड़कर अपने साथ ले गए। ऐसे दावे लगातार किए जा रहे हैं। उधर सीएम उद्धव ठाकरे अपना आधिकारिक निवास छोड़कर पुश्तैनी घर मतोश्री पहुंच गए हैं। साथ ही वो सीएम पद छोड़ने पर भी सहमत है। आइए जानते हैं कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए संख्या का गणित क्या कहता है।

मिल रही जानकारी के मुताबिक, एकनाथ शिंदे गुवाहाटी के रैडिसन ब्लू होटल में महाराष्ट्र के 42 बागी विधायक के साथ बैठे दिखाई दिए। एक वीडियो में बागी विधायक “शिंदे साहब तुम आगे बढ़ो, हम तुम्हारे साथ हैं” के नारे लगा रहे हैं। इन विधायकों में 35 विधायक शिवसेना के हैं तो सात विधायक निर्दलीय हैं। वहीं कुछ सांसदों के पहुंचने की बात भी सामने आ रही है। कहा जा रहा है कि शिवसेना की पूरी बागडोर एकनाथ शिंदे, उद्धव ठाकरे से छीनना चाहते हैं।

आधिकारिक डेटा के अनुसार, कुल 288 सदस्यों वाली महाराष्ट्र विधानसभा में सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल शिवसेना के पास 55, एनसीपी के पास 53 और कांग्रेस के पास 44 सीटें हैं। वहीं, मुख्य विपक्षी दल बीजेपी के पास विधानसभा में 106 सीटें हैं। दरअसल, बागी शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने अपने साथ 46 विधायकों के समर्थन का दावा किया है।

एकनाथ शिंदे शिवसेना पर कब्ज़ा चाहते हैं

एकनाथ शिंदे का साथ देने वाले शिवसेना के बागी विधायकों ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिख कई गंभीर आरोप लगाए हैं। विधायकों ने कहा कि सरकारी अधिकारी हमारी बात नहीं सुनते थे। एनसीपी-कांग्रेस के विधायकों से ही आप मिल पाते थे। शिवसेना के विधायकों को नजरअंदाज किया गया। 2.5 सालों से हमारे लिए सीएम आवास बंद था। केवल एकनाथ शिंदे ने हमारी आवाज़ सुनी। शिंदे के समर्थन में कुल 42 विधायक आ गए हैं। वहीं तीन विधायकों के मुंबई में होने की खबर है।

उद्धव सरकार का गिरना अब लगभग तय माना जा रहा है। गुवाहाटी में एकनाथ शिंदे ने 42 शिवसेना और 7 निर्दलीय विधायकों के साथ तस्वीर जारी कर चुनौती देते हुए शक्ति प्रदर्शन किया है। उद्धव सरकार गिराने के लिए शिंदे को सिर्फ 37 शिवसेना विधायकों की ज़रूरत थी। लेकिन शिंदे पूरी शिवसेना को ही तोड़कर उसपर भी काबिज़ होना चाहते हैं।

मिल रही जानकारी के मुताबिक, अब सरकार गठन और आगे की प्रक्रिया को लेकर महाराष्ट्र भाजपा में भी लगातार बैठक शुरू हो गई है। भाजपा ने शिंदे को महाराष्ट्र मंत्रिमंडल में 8 कैबिनेट रैंक और 5 राज्य मंत्री रैंक का ऑफर दिया है। साथ ही केंद्र में भी 2 मंत्री पद देने की पेशकश की है। अब बाज़ी शिंदे के हाथ में है। क्या भाजपा महाराष्ट्र की सत्ता पर काबिज़ हो पाएगी या ये तमाशा अभी और चलेगा।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment