Mumbai Rains : मुंबई में हर साल क्यों होती है इतनी बारिश, इन 5 प्वाइंट्स में समझें

Spread the love

Mumbai Rains : मुंबई शहर दो चीज़ों के लिय दुनियाभर में जानी-जाती है। पहली है वहां की बारिश और दूसरी बॉलीवड। मानसून में मायानगरी की बरसात पूरे शहर को डुबो देती है। तीन-तीन दिन लगातार बारिश नहीं रुकती। सड़कें तालाब में बदल जाती हैं।

गाड़ियां पानी में फंस जाती हैं। ट्रैफिक की भीषण समस्या पैदा हो जाती है। रेलवे ट्रैक पर पानी भर जाने की वजह से लोकल ट्रेनों की आवाजाही पर असर पड़ता है। आज आपको बताते हैं कि मानसून के समय मुंबई में अधिक बारिश (Mumbai Rains) का क्या कारण हैं। अन्य राज्यों में ऐसी बारिश क्यों नहीं होती ?

Mumbai Rains : मानसून में हर साल पानी-पानी क्यों हो जाती है मुंबई?

  • मुंबई का ड्रेनेज सिस्टम बरसों पुराना है। इसको पूरी तरह से बदला नहीं गया है। कई जगहों पर मरम्मत हुई है लेकिन वो काफी नहीं है। जब बारिश शुरू होती है तो पूरा शहर पानी में डूब जाता है।
  • मुंबई में हाई टाईड की वजह से लगातार बारिश होती रहती है और बारिश का पानी शहर के निचले इलाकों में  जमा हो जाता है। शहर से बाहर नहीं निकल पाता।
  • बारिश में कूड़ा बहकर नालियों में चला जाता है। नालियां जाम हो जाती हैं। नालियों से कूड़ा बाहर निकाला भी जाता है तो तुरंत उसे ठिकाने नहीं लगाया जाता।
  • मुंबई में हर दिन करीब 650 मिट्रिक टन कूड़ा निकलता है। प्लास्टिक की थैलियां और बोतल की वजह से नालियां जाम होती हैं। शहर से इकट्ठा हुए कुल कूड़े में 10 फीसदी प्लास्टिक होता है। प्लास्टिक के नालियों में फंस जाने के कारण से भी समस्या पैदा होती है।
  • मुंबई के वो इलाके जो निचले हैं वो बारिश में पूरी तरह से डूब से जाते हैं। इलाकों में लोकल ट्रेन की पटरियां समुद्र लेवल से भी नीचे हैं। इसलिए बारिश के पानी में वो डूब जाती है।

वर्तमान में मौसम विभाग ने मुंबई  समेत महाराष्ट्र के कई इलाकों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मुंबई में पिछले 12 घंटों में शहर में 95.81 mm जबकि पूर्वी उपनगर में 115.09 mm और पश्चिमी उपनगर में 116.73 mm बारिश दर्ज हुई है। मुंबई के अंधेरी, सायन, चेंबूर और कुर्ला के कुछ इलाकों में जलजमाव की स्थिति पैदा हो गई है। मुंबई में रुक रुक कर तेज बारिश शुरू है।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment