नकवी ने सीएम योगी के जनसंख्या वाले बयान पर पलटवार करते हुए लिखा…

Spread the love

Population Control : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसंख्या नियंत्रण (Population Control ) को लेकर बयान दिया था। उनके बयान के बाद भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा जनसंख्या विस्फोट तो मुल्क की मुसीबत है। इसे जाति और धर्म से नहीं जोड़ना ठीक नहीं है।

विश्व जनसंख्या दिवस पर  देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर एक बार फिर बहत तेज़ होती दिख रही है। वहीं इसपर बयानबाज़ी के बाद अब राजनीति भी शुरी हो गई है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विश्व जनसंख्या दिवस पर बोतले अपने भाषण में कहा ऐसा न हो कि किसी एक वर्ग की आबादी बढ़ने की गति अधिक हो और जो मूल निवासी हों, उनकी आबादी को नियंत्रित कर जनसंख्या असंतुलन पैदा कर दिया जाए।

सीएम योगी ने आगे कहा- जिन देशों में जनसांख्यकीय असंतुलन होता है वहां चिंताएं बढ़ती हैं, क्योंकि इससे धार्मिक डेमोग्राफी पर विपरीत असर पड़ता है। इससे एक समय के बाद वहां अव्यवस्था, अराजकता जन्म लेने लगती है। लेकिन यह भी ध्यान रखना होगा कि कहीं भी जनसांख्यकीय असंतुलन की स्थिति न पैदा होने पाए।

वही अब भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने इस मामले पर ट्वीट कर लोगों को मानसिकता बदलने की सलाह दे दी है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि बेतहाशा जनसंख्या विस्फोट किसी मजहब की नहीं, मुल्क की मुसीबत है, इसे जाति और धर्म से जोड़ना जायज़ नहीं।

सोशल मीडिया पर लोग नकवी के इस बयान को सीएम योदी के बयान पर पलटवार बता रहे हैं। कई यूज़र्स लिख रहे कि योगी जनसंख्या दिवस पर एक विषेश समुदाए को निशाने पर लेकर बयान दे रहे थे। बढ़ती आबादी के लिय उन्हें ही ज़िम्मेदार ठहरा रहे थे।

अपने बयानों के कारण हमेशा चर्चा रहने वाले संभल से सपा सांसद शफीकुर्ररहमान बर्क ने में योगी के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया देते कहा-सीएम योगी जनसंख्या नियंत्रण को अलग ही रंग दे दिया।

बर्क ने कहा कि औलाद पैदा करने का ताल्लुक इंसान से नहीं, अल्लाह से है। अगर लोगों में तालीम होगी तो जनसंख्या का मामला (Population Control ) खुद हल हो जाएगा। जनसंख्या नियंत्रण कानून की जगह शिक्षा पर जोर दिया जाना जरूरी है। भाजपा के नोताओं इस मामले पर अपना नज़रिए से एक वर्ग को निशाने पर ले रही है।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment