देश में ग़रीबों की अपेक्षा अमीर लोग अच्छे शिक्षण संस्थानों में एडमिशन लेने में अधिक सक्षम क्यों ?

एडमिशन

भारत में हर साल लाखों छात्र अलग अलग तरह के एंट्रेंस टेस्ट देत हैं, जेईई, कैट, मैट, क्लैट, नैट, नीट, यूपीएसी और न जाने क्या-क्या। ग्रैजुएशन से लेकर डॉक्ट्रेट तक बच्चा तमाम एग्ज़ाम्स की तैयारी करता है। बिना कोचिंग के इन एंट्रेंस टेस्ट को पास करना लगभग नामुमकिन बना दिया गया है। भारत में कोचिंग … Read more