पितृसत्ता के बोझ तले दबी स्त्री

Women buried under the burden of Patriarchy

खुशबू बोरा | पिंगलो, गरुड़ | बागेश्वर, उत्तराखंड | भारतीय समाज एक पुरुष प्रधान समाज रहा है, जहां पुरूषों को महिलाओं की तुलना में ज्यादा अधिकार दिए गए हैं. पितृसत्तात्मक समाज के अंतर्गत भारतीय समाज में पुरुषों को महिलाओं की तुलना में सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और धार्मिक रूप से श्रेष्ठता दी गई है. इसमें हमेशा से पुरुषों का वर्चस्व रहा … Read more