सासंद वरुण गांधी ने सैन्य अभ्यर्थियों के समर्थन में कही ये बड़ी बात!

Spread the love

भरतीय सेना में भर्ती के लिए मोदी सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ स्‍कीम को लेकर देशभर में अभ्यार्थी सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। बिहार,उत्‍तर प्रदेश और तेलंगाना में बड़े पैमाने पर उग्र प्रदर्शन हुए हैं। प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन के कोचों को आग के हवाले कर दिया और बीजेपी के कार्यालय पर तोड़फोड़ की।

देशभर में चल रहे प्रदर्शनों के हिंसक होते ही, बीजेपी सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi)केंद्र सरकार की योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे सैन्‍य अभ्‍यर्थियों के पक्ष में खुलकर बोले। पिछले कुछ समय से बीजेपी से नाखुश चल रहे वरुण अपनी ही पार्टी की जमकर आलोचना करते रहे हैं। वरुण गांधी ने ट्वीट करके सैन्य अभ्यर्थियों को इस संघर्ष में हर कदम पर साथ रहने का भरोसा दिया।

सांसद वरुण गांधी ने ट्वीट में लिखा, “सैन्य अभ्यर्थियों के इस संघर्ष में मैं हर कदम पर उनके साथ खड़ा हूं। आप सभी से निवेदन है कि धैर्य से काम लें और ‘लोकतांत्रिक मर्यादा’ बनाए रखते हुए अपने ज्ञापन विभिन्न माध्यमों से सरकार तक पहुंचाएं। ‘सुरक्षित भविष्य’ हर युवा का अधिकार है! न्याय होगा।”

गौरतलब है कि वरुण गांधी ने अग्निपथ योजना के आते ही कहा था कि इससे युवाओं में और अधिक असंतोष होगा । रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को लिखे एक पत्र में वरुण ने मांग की कि सरकार इस योजना से जुड़े नीतिगत तथ्यों को सामने लाए और अपना पक्ष साफ करे।

वरुण गांधी ने कहा कि जब सेना में 15 साल की नियमित नौकरी के बाद सेवानिवृत्त हुए सैनिकों को उद्योग जगत नियुक्त करने में ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखाते तो ऐसे में सिर्फ चार साल की अवधि के बाद सेवानिवृत्त हुए सैनिकों का क्या होगा?

ये पहली बार नहीं जब वरुण गांधी अपनी ही सरकार के खिलाफ बोल रहे हों। वो पिछले कुछ समय से जमकर अपनी सरकार की नीतियों की आलोचना कर रहे हैं। रोज़गार के मुद्दे पर सरकार को घेरते रहे हैं। आज भी वो अपनी सरकार से सवाल पूछ रहे हैं। केंद्र सरकार की इस अग्निपथ योजना के खिलाफ बोल रहे है। वहीं भाजपा नेता इस योजना के फायदे गिनाते नज़र आ रहे हैं।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment