राहुल गांधी कुल कितनी संपत्ति के मालिक हैं ? चौंका देंगे आपको ये आंकड़े!

Spread the love

Total assets of Rahul Gandhi : कांग्रेस नेता राहुल गांधी(Rahul Gandhi) से प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले (money laundering case) में पूछताछ के बाद पूरी कांग्रेस पार्टी दिल्ली की सड़कों पर या तो दिल्ली पुलिस के गिरफ्त में है। ज़ोरदार हंगामा जारी है। इसी उठा-पठक के बीच ये सलाव भी उठ रहा है कि आख़िर दशकों राहुल गांधी के पास कुल कितनी संपत्ति है (What is the total assets of Rahul Gandhi)? इस तरह के सवाल सोशल मीडिया पर तैरते नज़र आ रहे हैं। आइये जानते हैं कि गांधी परिवार कितनी दौलत का मालिक है।

राहुल गांधी कुल कितनी संपत्ति Total assets of Rahul Gandhi के मालिक हैं

प्रवर्तन निदेशालय (ED)  राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से उनकी संपत्ति के बारे में भी जानकारी ले रही है। 2019 लोकसभा चुनाव के पहले राहुल गांधी ने जो एफिडेविट जमा किया था, उस हिसाब राहुल गांधी के 15 करोड़ 88 लाख रुपय की कुल संपत्ति (Total Assets of Rahul Gandhi है। एफिडेविट (Affidavit) में ये भी बताया गया कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर 72 लाख का एक लोन भी है। चुनाव के समय राहुल द्वारा जमा किए गए एफिडेविट के हिसाब के आपको उनकी पूरी संपत्ति की जानकारी देते हैं।

  • 2019 के एफिडेविट के मुताबिक, राहुल के पास 2014 में 9.4 करोड़ की संपत्ति 9.4 थी।
  • राहुल के पास 40 हजार कैश हैं। 17 लाख 93 हजार रुपए अलग-अलग बैंकों में जमा हैं।
  • चल संपत्ति 5 करोड़ 80 लाख 58 हज़ार 799 रुपए है। तो अचल संपत्ति 10 करोड़ 8 लाख 18 हजार 284 रुपए है।
  • इसके साथ ही राहुल गांधी ने 5 करोड़ 19 लाख रुपए बॉन्ड, शेयर म्यूचुअल फंड में इंवेस्ट कर रखे हैं।
  • दिल्ली के सुल्तानपुर गांव में विरासत में मिले खेत में राहुल गांधी का भी हिस्सा है। इसके साथ ही उनके पास 333.3 ग्राम सोना है।

राहुल गांधी की कमाई का ज़रिया क्या है

What is source of Rahul Gandhi Income : एफिडेविट दी गई जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी की इनकम का सोर्स सांसद के तौर पर मिलने वाली सैलरी, रॉयल्टी इनकम,रेंटल इनकम,बॉन्ड्स से मिलने वाला इंटरेस्ट ,म्यूचुअल फंड्स से मिलने वाला डिविडेंस और कैपिटल गेन।

राहुल गांधी से ईडी पूछलाछ क्यों कर रही है

Why is ED questioning Rahul Gandhi? प्रवर्तन निदेशालय (ED)  राहुल गांधी से नेशनल हेराल्ड अख़बार (National Herald case) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले से पूछताछ (National Herald money-laundering case.)कर रही है। जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस पार्टी ने अपने पार्टी फंड से नेशनल हेराल्ड  अख़बार ( National Herald Newspaper) को करीब 90 करोड़ रुपए का इंटरेस्ट फ्री लोन दिया था। ये 2 हज़ार करोड़ से भी अधिक की मामला है।आज़ादी से पहले साल 1938 में कांग्रेस पार्टी ने एसोसिएट जर्नल्स लिमिटेड (Associate Journals Limited) बनाई थी। इसी के तहत नेशनल हेराल्ड अख़बार चलाया जाता था।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment