कौन हैं वो ग्रैंड मुफ्ती जिनके एक बयान के बाद अरब में भारतीय सामानों का बहिष्कार शुरू हो गया ?

Spread the love

ग्रैंड मुफ्ती के बयान का असर : भारतीय जनता पार्टी के दो प्रवक्ताओं के बयानों ने भारत की इंटरनेशन लेवल पर छवि को चोट पहुंचा दी। क़तर, कुवैत,ओमान,बहरीन,सऊदी,अफ्गानिस्तान,पाकितान और ईरान समेत अन्य मुल्कों ने पैगंबर मोहम्मद पर दिए ग़लत बयान के बाद तल्ख शब्दों में नराज़गी दर्ज कराई।

पैगंबर मोहम्मद पर की गई अपमानजनक टिप्पणी के बाद अरब देशों में भारतीय सामानों का बहिष्कार किया जाने लगा। देखते ही देखते पूरे अरब में यह ट्रेंड शुरू हो गया। नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के बयान ने पूरे अरब में हलचल मचा दी।

ओमान के ग्रैंड मुफ्ती शेख अल खलीली केे बयान बाद शुरू हुआ बहिष्कार

वहीं, अरब में भारतीय वस्तुओं के बॉयकाट की मुहिम ओमान के ग्रैंड मुफ्ती ने शुरू की। ओमान के ग्रैंड मुफ्ती शेख अहमद बिन हमाद अल खलीली ने भाजपा के खिलाफ ट्वीट कर इस मुहिम को चलाया। अपनी नाराज़गी का इज़हार करते हुए भारतीय सामानों के बहिष्कार की बात कह डाली। उनके इस क़दम के बाद सोशल मीडिया पर बॉयकाट की मुहिम शुरू हो गई।

79 साल के ओमान के ग्रैंड मुफ्ती अहमद अल खलीली इस्लामिक मुद्दों पर बेबाक़ी से बोलने के लिए जाने जाते हैं। ओमान में शराब बैन करने की भी वह सरकार से मांग कर चुके हैं। मुफ्ती खलीली को पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान का सबसे सर्वोच्च्य नागरिक सम्मान निशान-ए-पाकिस्तान भी दिया जा चुका है।

मुफ्ती खलीली ने अपने बयान मे कहा कि इस मामला पर सभी मुस्लिमों को एक राष्ट्र के रूप में उठ कर आवाज़ बुलंद करनी चाहिए। ग्रैंड मुफ्ती के इस बयान के बाद अरब देशों में भारत का विरोध देखने को मिला। भारतीय सामानों के बहिष्कार की मुहिम शुरू हो गई।

कैसे शुरू हुआ ये पूरा विवाद

आपको बता दें कि इस मामले के बाद बीजेपी ने अपने दोनों प्रवक्ताओं को निष्काशित कर दिया। दोनों प्रवक्ताओं ने अपने-अपने बयान वापस लेते हुए माफी भी मांगी। भारत के विदेश मंत्रालय को भी लगातार इस संबंध में सफाई देना पड़ी।

आपको बता दें कि यह पूरे मामले की शुरूआत तब हुई। जब भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा एक अंग्रेज़ी के न्यूज़ चैनल पर ज्ञानवापी मैटर पर डिबेट कर रही थीं। इसी दौरान नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद को लेकर कुछ बेहद ही अपमानित शब्द कह दिए। जिसके बाद पूरे देश में उनके बयान के बाद विरोध शुरू हो गया। यूपी के कानपुर में हिंसा तक हो गई।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Also Read

1 thought on “कौन हैं वो ग्रैंड मुफ्ती जिनके एक बयान के बाद अरब में भारतीय सामानों का बहिष्कार शुरू हो गया ?”

Leave a Comment