दिल्ली की सड़कों से क्यों हटाए जा रहे 77 धार्मिक स्थल ?

Spread the love

देश की राजधानी दिल्ली में जाम की समस्या परेशानी का कारण है। ट्राफिक 1 मिनट के लिय रुकता है तो सैकड़ों गाड़ियों की लंबी कतार लग जाती है।कई बार सड़कों का अतिक्रमण जाम की वजह बनता है। अब दिल्ली में अधिकारियों ने सख्त फैसला लिया है। उपराज्यपाल ने 77 सड़कों में अतिक्रमण करके बनाए गए मंदिर, मस्जिद और मजार सहित सभी धार्मिक स्थलों को हटाने के आदेश जारी किए हैं।

राजधानी दिल्ली की सड़कों पर जगह-जगह मंदिर, मस्जिद बनाने से यातायात बाधित होता है और वाहन चालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है, जिसकी शिकायत लंबे समय से की जा रही है। समूचे दिल्ली की 77 सड़कों को अतिक्रमण मार्ग के रूप में चिन्हित किया गया है।

अगर 3 महीने के अंदर इन सभी 77 मार्गों से अतिक्रमण नहीं हटाया जाता, तो जिम्मेदार व्यक्तियों पर कार्यवाई भी की जाएगी। उपराज्यपाल ने PWD, वन विभाग, गृह विभाग, DDA, MCD सहित सभी विभागों को तीन महीने के अंदर सड़कों से अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए हैं।

 एलजी विनय कुमार सक्सेना ने सड़कों पर से धार्मिक संरचनाओं, झोंपड़ियों और पेड़ों को हटाने में साल भर की देरी पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि समय-सीमा पूरी करने और देरी की स्थिति में जिम्मेदारी तय करने का निर्देश दिया। आगे कहा कि वह व्यक्तिगत रूप से भीड़भाड़ कम करने की कवायद की निगरानी करेंगे और निर्देशों से किसी भी तरह की लापरवाही को बहुत गंभीरता से लिया जाएगा।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment