Zomato डिलीवरी बॉय के दलित होने पर खाना लेने से किया मना, मुंह पर थूंका, बुरी तरह पीटा!

Spread the love

दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र वाले देश भारत में आज भी जातिवाद का ज़हर ख़त्म नहीं हो रहा है। सांप्रदायिकता के साथ-साथ जातिवाद का ज़हर भी लोगों के दिमाग से नहीं निकलता। यूपी की राजधानी लखनऊ से एक बेहद ही शर्मानाक घटना सामने आई है। जहां एक दलित डिलीवरी बॉय से खाना लेने से इंकार कर उसकी पिटाई कर दी गई।  

डिलीवरी बॉय का आरोप है कि जब वो खाना लेकर कस्टमर के घर पहुंचा। लेकिन जैसे ही उनको दलित होने का पता चला, उन्होंने डिलीवरी बॉय से खाना लेने से इंकार कर मार-पीट शुरू कर दी। उसके मुंह पर थूक दिया। ये शर्माक घटना लखनऊ के आशियाना क्षेत्र की है।

नाम पूछा और गालियां देकर मारपीट शुरू कर दी

पुलिस को दी तहरीर के मुताबिक, लखनऊ के आशियाना क्षेत्र में रहने वाले विनीत रावत जोमेटो में डिलीवरी बॉय का काम करते हैं। रात में वो अपने ही क्षेत्र में एक ऑर्डर डिलीवर करने के लिय अजय सिंह के नाम कस्टमर के घर पहुंचे। उनका आरोप है कि जैसे ही उन्होंने कस्टमर अजय सिंह को अपना नाम विनीत रावत बताया। इस पर वह भड़क उठे और गंदी-गंदी गालियां देना शुरू कर दीं। कहा- अब हम तुम लोगों (दलित) का छुआ सामान लेंगे क्या? इस पर मैंने उनसे कहा, अगर आपको खाना नहीं लेना है तो कैंसिल कर दीजिए, पर गालियां मत दीजिए।

पुलिस कहानी कुछ और ही कह रही

इस शर्मानाक घटना पर पुलिस इंस्पेक्टर दीपक पांडेय ने जो कहानी बताई वो कुछ और ही है।  दीपक पांडेय ने बताया कि अजय जैसे ही अपना आर्डर लेने घर से निकले तो डिलावरी बॉय विनीत पहुंच गया। विनीत ने उन्हीं से उनके घर का पता पूछा। अजय ने पान मसाला खाया हुआ था। विनीत को पता बताने के लिए उन्होंने मसाला थूका। इसके छींटे विनीत पर पड़ गए। इस पर विनीत ने गाली देते हुए विवाद किया। इसी बात पर अजय और उनके घरवालों ने विनीत की पिटाई कर दी।

पुलिस ने पीड़ित विनीत की तहरीर पर पुलिस ने 2 नामजद, 12 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि मामला केवल मारपीट का है। पुलिस और विनात की कहानी अलग-अलग है। किसका आरोप सही है। ये पुलिस की जांच में पता चलेगा।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Comment